Home » Safalta ka Rahasya Kya Hai। Secret Of Success

Safalta ka Rahasya Kya Hai। Secret Of Success

Safalta ka Rahasya Kya Hai। Secret Of Success

safalta ka rahasya। सफलता का रहस्य। secret of success

safalta ka rahasya kya hai.. इस दुनिया में हर कोई सफल होना चाहता है। सभी लोगों को सफलता चाहिए, सभी लोग success होना चाहते हैं। कोई अपने व्यापार में success होना चाहता है, तो कोई अपने जीवन में सफलता प्राप्त करना चाहता है, तो कोई अपने carrier में सफल होना चाहता है। लेकीन किसीको ये पता नहीं होता कि आखिरकार safalta ka rahasya kya hai ?

     हर एक व्यक्ति सुबह उठने के बाद, रात को सोने के time तक पूरा दिन यहां से वहां दौड़ भाग करता रहता है। किसीको जल्दी office पहुंचना है तो, किसीको अपने कार्यस्थल पर जल्दी पहुंचना है। हम सब पूरा दिन दौड़ भाग क्यों करते हैं ? जाहिर सी बात है दो पैसे कमाने के लिए, और सफ़लता प्राप्त करने के लिए।

jeevan ki safalta ka rahasya kya hai

    जब भी हम किसी सफल व्यक्ती से पूछते हैं कि , आपके jeevan ki safalta ka rahasya kya hai तो उसमे कई सारे पहलू रोल प्ले करते हैं। जैसे कि मेहनत, टाइम मैनेजमेंट, पैशन और भी कई सारे पहलू होते हैं। सफलता कभी किसीको भी रातोतात (overnight) नहीं मिलती है। सफलता प्राप्त करने के लिए आपको बहुत ज्यादा एफर्ट्स (efforts) लगाने पड़ते हैं।

safalata ke sutra

1. विचार  2. जूनून  3. सोच  4. शौख  5. टाईम मैनेजमेंट

safalta ka rahasya kya hai

safalta ka rahasya
safalta ka rahasya

1.विचार (thoughts) :

                  कीसी भी क्षेत्र में सफलता प्राप्त करने के लिए सबसे जरूरी पहलू होता है आपके विचार। कई सारे लोगों को ये भी लगता होगा की सफलता प्राप्त करने में विचार कि क्या अहमियत हो सकती है ? लेकीन वो चाहें , आपका कोई बिजनेस हो, कैरियर हो यां फिर आप अपने जीवन में सफलता प्राप्त करना चाहते हो, आपके विचार बहुत ही ज्यादा अहमियत रखते हैं।

     स्वामी विवेकानन्द जी कहते हैं कि, यदि आपको जीवन के किसी भी क्षेत्र में सफलता प्राप्त करनी है तो आप अपने विचारों पर सबसे पहले ध्यान दीजिए। स्वामी विवेकानन्द जी का कहना है कि, शब्द गौण चीज़ है, लेकीन विचार बहुत ही ज्यादा उपयोगी और अहम है। क्योंकी विचार दूर तक जाते हैं और जिंदा रहते हैं। आपके विचार ही आपका आनें वाला कल यानी कि आपका भविष्य निर्धारित करते हैं।

     स्वामी विवेकानन्द जी का कथन है कि, आपको यदि किसी भी कार्य में यां क्षेत्र में सफलता हासिल करनी है तो आप कोई एक ही विचार को पकड़िए। आपको किसी भी कार्य में success पाने के लिए किसी भी एक ही विचार यानी विषय पर focus करना चाहिए। आप अपना पूरा ध्यान एक ही विषय पर लगाइए। आपको एक समय में कोई एक ही कार्य हाथ में लेना चाहिए। 

यह भी पढ़ें_ Best 100 Good Morning Quotes In Hindi। सुप्रभात सुविचार

Best 124 Life Quotes In Hindi। Life Status

Best 77 swami vivekananda motivational quotes in hindi and english

Best 50 Jeff Bezos Quotes in Hindi | जेफ बेजॉस के विचार

     स्वामी विवेकानन्द जी safalta ka rahasya बताते हुए कहते हैं कि, आपको किसी भी कार्य में success होना है। तो आपको कोई एक ही विषय पर काम करना होगा। आप कोई एक ही विचार पकड़िए, उस विचार को अपनी रग रग में और नस नस में भर दीजिए। आप सोते जागते, उसी विचार कि सफलता के सपने देखिए। आप अपनी पूरी शक्ति उसी कार्य में लगा दीजिए।

     आप जब भी किसी विचार पर ज्यादा सोचते हैं और उस पर focus करते हैं तो हमारा मन उस विषय कि विभिन्न संभावनाओं को हमारी समक्ष प्रकट करता है। आपने लॉ ऑफ़ अट्रैक्शन (law of attraction) के बारे में तो सुना ही होगा। ये जरुर काम करता है। आप जीतना किसी भी विषय के उपर focus करते हो उतना ही उस विषय के सारे अच्छे और खराब points हमारे सामने आते जाते हैं।    

    आप जब भी कोई विषय पर ज्यादा फोकस करते हैं तब, उस विषय कि सारी रूपरेखा आपकी नजर के सामने बनती जाती है। आपको क्या करना है, क्या होगा वगैरह सब कुछ। और फिर आप उन सभी पॉइंट्स को सफलता कि चीढ़ी के रूप में इस्तेमाल कर सकते हैं।

Jeevan ki safalta ka rahasya kya hai

2. जूनून ( passion ) :

Jeevan ki safalta ka rahasya kya hai
Jeevan ki safalta ka rahasya kya hai


      सफलता प्राप्त करने के लिए दुसरा जरुरी पहलू है ,आपका जुनून यानी आपका पैशन। कई सारे लोग किसी से इंस्पायर होके, किसी को देखकर, यां फिर किसिके कहने पर कोई कार्य शुरु तो कर देते हैं। कुछ समय तक उनका उस कार्य में पैशन रहता है, पर थोड़ा समय जाने के बाद धीरे धीरे उनका उस कार्य के प्रती ज्यादा जूनून नहीं रहता। और फिर धीरे धीरे उस कार्य में उनके एफर्ट्स (efforts) भी कम हो जाते हैं।

      आप कोई भी काम में कितनी सफलता प्राप्त करेंगे ये तो आपके उस पर निर्भर रहता है कि, आपका उस कार्य के प्रती जूनून यानी पैशन कैसा है। आपका कोई भी कार्य के प्रती ज्यादा जूनून होगा आप वह काम उतना ही ज्यादा सरलता से करेंगे। आपको वह कार्य करने में मजा भी ज्यादा आएगा।

  आपने थ्री ईडियट्स (three idiots) मूवी तो देखी ही होगी। उसमे आमिर खान , आर. माधवन को समझाते हुए बताते हैं कि, तुम प्यार करते हो जानवरों से और शादी कर रहे हो मशीनों से तो फिर तुम्हारा संसार कैसे चलेगा ? इसमें आर माधवन को जानवरों के photograph खींचने का passion होता है। ये सिर्फ एक फिल्म का संवाद (dialogue) मात्र नहीं है, पर ये एक जीवन उपयोगी शिक्षा है कि, आपको वह काम करना चाहिए जिसमे आपका passion हो।

        आपने कई बार देखा होगा कि, कई सारे लोगों का जूनून (passion) कुछ अलग होता है और वोह लोग काम कुछ और करते हैं। जैसे जैसे technology का development होता जा रहा है, वैसे वैसे बेरोजगारी बढ़ती जा रही है। students बड़ी बड़ी private collages में पढ़कर जब अपने कैरियर बनाने के लिए प्रयास करते हैं यानी कोई अच्छी naukri ढूंढते हैं तब सभी students को अच्छी ढंग कि नौकरी नहीं मिल पाती। 

इसे भी पढ़ें_ Top 45+ elon musk quotes hindi and english

Best 127 small thoughts in hindi and english

Best 43 sandeep maheshwari quotes in hindi and english

      जो naukri मिलती हैं उसमे उनकी sallary उतनी कम होती है कि, ख़ुद का खर्चा भी जोड़ तोड़ के उठाना पड़ता है। लेकीन कई सारे students एक ग़लती करते हैं कि, वो जैसी भी नौकरी मिलती है उसे join कर लेते हैं। उसमे कुछ गलत भी नहीं, क्योंकि इस महंगाई के दौर में ख़ुद का खर्चा भी उठाना, और परिवार को भी support करना पड़ता है। 

     पर उसमे एक दिक्कत ये रहती हैं कि उस नौकरी में salary भी ज्यादा नहीं मिलती और मनपसंद काम ना होने कि वजह से काम में ज्यादा मन भी नहीं लगता। यदि आप वो काम करेंगे जिसमें आपका पैशन हो तो आपको काम में भी ज्यादा मन लगेगा और आप bore भी नहीं होंगे। और उसमे सफलता प्राप्त करने के chances भी बड़ जाएंगे। यही safalta ka rahasya है।

Safalta ki kunji

3. सोच (mindset)। safalta ki kunji :

Safalta ki kunji
Safalta ki kunji

     सफलता प्राप्त करने में तीसरा जरुरी पहलू है सोच यानी की आपका mindset। ये पहलू सफलता प्राप्त करने में बहुत ही ज्यादा अहम रोल प्ले करता है। कई सारे लोग नया काम शुरू कर लेते हैं, पर वो सफलता का माइंडसेट नहीं बना पाते। इसलिए उन लोगों को बार बार अपने काम पर और सफलता मिलेगी यां नहीं उस बात पर शंका यानी douts होते रहते हैं। वो लोग safalta ka rahasya नहीं जानते हैं।

     आपको यदि किसी भी कार्य में सफल होना है तो सबसे पहले आपको अपना mindset बनाना पड़ता है। Mindset बनाने का मतलब सिर्फ यही नहीं होता कि, आप ये सोचना चालू करदे कि मुझे सफलता मिल हि जाएगी। पर mindset बनाने का मतलब है कि किसी भी कार्य कि विभिन्न संभावनाएं ध्यान में लेकर, उस कार्य में जरूरी चीजों के स्त्रोत को ध्यान में रखकर, अपनी योग्यता को ध्यान में रखते हुए, उसके pros and cons यानी अच्चे और बुरे पॉइंट्स को ध्यान में रखकर उस कार्य का प्लांनिंग करना।

     कोई भी कार्य के लिए mindset बनाने का अर्थ है कि, खुद कि योग्यता को जानकर, कोई भी काम को शुरु करना। और उसके बाद यदि उस कार्य में असफल होंगे तो क्या होगा वो बात ध्यान में रखना और यदि सफ़ल होंगे तो कोनसी strategy को अपनाने से सफ़लता मिलेगी ये बात भी ध्यान में रखना।

    कई बार लोग किसी सफल व्यक्ती को देखकर यां फिर किसी से inspire होकर यां फिर कोई मोटिवेशनल वीडियो देखकर, थोड़ा आवेश में आकर कोई नया बिजनेस स्टार्ट कर लेते हैं। तो कई सारे व्यक्ति over-confidence में कोई नया बिजनेस स्टार्ट करने का मन बना लेते हैं। कई बार तो ऐसा भी होता है कि जब कोई नया बिजनेस स्टार्ट करना होता है तब परिवार वाले मना करते हैं।

कई सारे व्यक्ति over-confident के चक्कर में नया बिजनेस स्टार्ट करने का मन बना लेते हैं। और जब घरवाले, मम्मी पापा सब मना करते हैं तो उन्हें लगता है कि कोई उनको समझ नहीं रहा है। तब कई व्यक्ति जीद पर उतर आते हैं और कई बार बिजनेस में अपना घर, दुकान, अपनी सेविंग्स, अपने मम्मी पापा कि सेविंग्स सब कुछ लगा देते हैं। और कई बार जब वो बिजनेस ज्यादा चल नहीं पाता और तब वो उस काम में fail हो जाते हैं। और अपना सब कुछ गवां बैठते है। तो फिर इस तरह काम करने को मूर्खता (foolishness) ही कहा जाएगा।

   किसी भी बिजनेस में पैसा इन्वेस्ट करने से पहले दस बार ये सोचना चाहिए कि, यदि by chance में इसमें fail हो गया तो क्या होगा ? और आप चाहें कोई भी बिजनेस स्टार्ट करे उसमें कभी भी अपनी यां अपने परिवार कि जीवन भर कि कमाई यानी सेविंग्स नहीं लगानी चाहिए। क्योंकी यदि by chance वो बिजनेस फैल भी होता है तो आपके पास कुछ पैसा तो बचा रहेगा।

   आपके पास full proof strategy का होना अलग बात है और उस पर पैसे लगाना अलग अल बात है। 

safalta ke 5 rahasya

4. आपका शौख (hobbies)। safalta ke 5 rahasya :

safalta ke 5 rahasya
safalta ke 5 rahasya  

सफलता प्राप्त करने में चौथा जरुरी पहलू है आपका शौख यानी कि आपका intrest।  ये पहलू भी सफ़लता प्राप्त करने में बहुत बड़ा रोल अदा करता है। आपको लगता होगा कि, हमारा शौख इसमें क्या काम आ सकता है। अलग अलग लोगों को अपने स्वभाव के हिसाब से अलग अलग शौख होते है। किसीको क्रिकेट खेलना पसंद है, तो किसीको मोबाइल पर इंटरनेट चलाना पसंद है।

       यदि आप अपने शौख यानी hobby को अपने  कैरियर के रूप में पसंद करते हो, तो उसमे आपके success होने के चांस बढ़ जाते हैं। क्योंकी यदि आप अपना मनपसंद काम करोगे तो आपको काम ,काम लगेगा ही नहीं, बल्कि आप अपने काम को एंजॉय कर पाओगे। और यही safalta ka rahasya होता है।

   For example यदि किसीको मोबाइल पर इंटरनेट चलाना पसंद है तो आप ऑनलाईन भी कई तरह के काम कर सकते हैं और उसमें सफलता प्राप्त कर सकते हैं। जैसे कि, यूट्यूब चैनल स्टार्ट करना, कोई ब्लॉग लिखना शुरू करना, फ्रीलांसिंग वर्क करना (freelancing work), डिजिटल मार्केटिंग में बहुत ही सारे अनेकों प्रकार के काम होते हैं। Freelancing work में भी कई सारे काम होते हैं, जैसे कि, लोगो डिजाइनिंग, वेब डिजाइनिंग, कंटेंट राइटिंग, सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन (SEO) , मोबाइल ऐप डेवलपमेंट, ग्राफिक डिजाइन वगैरह वगैरह।

       आप घर बैठकर यूट्यूब चैनल स्टार्ट करके भी पैसा कमा सकते हैं। यदि कोई लड़की या कोई महिला अपना यूट्यूब चैनल स्टार्ट करे तो उन्हें भी काफी success मिल सकती है। लडकियां यां महिलाए यदि अपना चहेरा ना दिखाना चाहती होबिना अपना चेहरा दिखाए भी अपना यूट्यूब चैनल चला सकतीं हैं।

    उसमें आपको सिर्फ अपने आवाज कि रिकॉर्डिंग कर के विडिओ बनानी होती है। उस तरह है के विडिओ में आपको सिर्फ वीडियो से जुड़े कुछ फोटोग्राफ यां छोटी छोटी वीडियो क्लिप लगाकर, अपनी आवाज कि रिकॉर्डिंग उसके साथ में डाल के विडिओ बनानी होती है। यदि किसी लड़की यां महिला को अच्छा खाना बनाना आता है तो आप किचन के ऊपर भी यूट्यूब चैनल स्टार्ट कर सकतीं हैं। औरआपको उसने बहुत ज्यादा पैसा भी मिलता है। कई सारी महिलाएं किचन (kitchen) के उपर यूट्यूब चैनल स्टार्ट कर के लाखों रुपए कमा रही है।

    यदि आपके पास किसी विषय में अच्छी खासी knowledge है तो आप अपना पर्सनल ब्लॉग भी शुरु कर सकते हैं। ब्लॉगिंग में यूट्यूब चैनल कि तूलना में ज्यादा एफर्ट्स लगाने पड़ते हैं। पर ब्लॉगिंग में यूट्यूब चैनल कि तूलना में पैसे भी बहुत ही ज्यादा मिलते हैं। आप किसी भी niche (topic) के उपर ब्लॉग स्टार्ट कर सकते हैं जैसे कि, टेक ब्लॉगिंग, लाइफस्टाइल, फैशन, मोटिवेशनल ब्लॉग, यां फिर कोई religious (धार्मिक) ब्लॉग भी शुरु कर सकते हैं। और आप भी दूसरो को अपनी safalta ka rahasya बता सकते हैं।

    वो कहा जाता हैं ना कि, शौख बहुत ही बड़ी चीज है। तो आप यदि अपने शौख को ही प्रोफेशन बना लेते हैं तो उसमे आपको ज्यादा success मिल सकती है। और आप उसमे पैसे भी ज्यादा कमा सकते हैं।

Safalta Ke Sutra

5. टाईम मैनेजमेंट (time management)

safalta ke sutra
safalta ke sutra

किसी भी क्षेत्र में सफलता प्राप्त करने के लिऐ टाइम मैनेजमेंट का बहुत बड़ा रोल होता है। कोई भी व्यक्ति चाहें अमीर हो यां गरीब सभी के पास रोज 24 घण्टे का हीं टाइम होता है। पर फर्क इस बात से पड़ता है कि आप अपने समय का किस तरह उपयोग करते हो।

      आमतौर पर ज्यादातर लोगों के पास अपने टाईम का कोई फिक्स शेड्यूल नहीं होता। वो अपने सभी काम अलग अलग समय पर करते रहते हैं। उसका काम करने का कोई फिक्स टाइम नहीं होता। तो कई सारे व्यक्ति तो समय का महत्त्व ही नहीं समझते हैं। उनके लिए समय सिर्फ़ एक टाइमपास के इलावा और कुछ नहीं होता है।

  पहला सवाल कि आप अपने फ्री टाईम में क्या करते हो ? यदि आपको ये सवाल छोटा लग रहा है तो शायद आप इस सवाल कि वैल्यू नहीं जानते। आमतौर पर ये देखा जाता हैं कि, ज्यादातर लोग अपना फ्री टाईम, मोबाइल चलाने में, टीवी देखने में, कोई गेम खेलने मे यां फिर इधर उधर कि बातें करने में ही गवां देते हैं। लेकीन क्या आपने कभी ये सोचा है कि, यदि आप इस फ्री टाईम का सही उपयोग करें तो आप कुछ ही समय में ढेर सारे पैसे कमा सकते हैं। इसे कहते हैं safalta ka rahasya.

    आप यदि रोज के 3 यां 4 घण्टे का फ्री टाईम सिर्फ इधर उधर कि बातें करने में यां फिर कोई दुसरी एक्टिविटीज करने में गवां देते हैं, तो आप सिर्फ़ अपना समय नहीं गवां रहें हैं। पर आप अपने लाखों रुपए का नुकसान कर रहें हैं, जो आप अपने उस टाइम का सही उपयोग कर के कमा सकते थे। क्या आपने अपने समय के बारे में कभी इस तरह से सोचा है ? नही ना, बस यही फर्क होता है, successful लोगों के और struggle कर रहे लोगों कि सोच में।

     आपको यदि अपने जीवन में यां फिर अपने बिजनेस में सफल होना है तो आपको अपने समय का सही तरह से मैनेजमेंट करना सीखना होगा। आपको अपने हर एक घंटे, हर एक मिनिट, और हर एक सेकंड का सही से इस्तेमाल करना होगा। आपको अपने फ्री टाईम को भी कुछ कर के उसे भी प्रोडक्टिव बनाना पड़ेगा।

    दुनियां में जो बड़े और सक्सेसफुल एक्टर, एक्ट्रेस, बिजनेसमैन , लीडर्स हैं वो सभी अपने समय का सही तरह से उपयोग करना जानते हैं और करते हैं। उनके पास अपने हर एक घण्टे का, हर एक मिनिट का हिसाब होता है। यही बात उनकीी safalta ka rahasya है। वोह लोग प्रोडक्टिव एक्टिविटी करने में लगाते हैं।

     आपको अपने जीवन में यां बिजनेस में सफ़लता प्राप्त करनी है तो आपको अपने समय का सही तरह से उपयोग करना होगा। आप अपना एक शेड्यूल बना लीजिए, और रोज शाम को उसमे नोट कीजिए की, आज के दिन में आपने कितने काम किए, उसमे से कितने काम ऐसे थे जो आज ही करने जरूरी थे, कितने काम ऐसे थे कि जो आज के बदले कल यां परसों करते तो भी काम चल जाता, कितने काम ऐसे थे कि जो कुछ दिनों बाद करते ती भी ज्यादा फर्क नहीं पड़ता था।

   आप यकीन मानिए ज्यादातर लोग रोज वो ही काम करते हैं कि जो कुछ दिनों बाद करते तो भी ज़्यादा कुछ फर्क नहीं पड़ता है। मतलब कि ज्यादातर लोगों को अपने कामों को प्रायोरिटी किस तरह से देनी है उसके बारे में यां तो पता नहीं होता यां तो उनका उस बात के तरफ ध्यान नहीं जाता हैं। वो लोग safalta ka rahasya क्या है नहीं जानते।

धन्यवाद्

SevenDayMotivations

Hello, friends, I am Bharat Wagh Site Admin of the SevenDemotivations.com. I am a mechanical engineer by profession but blogging is my passion.The main purpose of starting this site is to strongly motivate all the people. My heartfelt wishes are all people who have progressed a lot in life and become very successful.Thank You for Your Time